देशदेश-दुनियाराजनीतिक

राफेल पर बोले राहुल गांधी, डील में सीधे तौर पर शामिल थे PM मोदी

नेशनल डेस्क। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मामले को लेकर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधा और आरोप लगाया कि इस विमान सौदे को लेकर मोदी ने फ्रांस के साथ समानांतर बातचीत की और उन्हें इस पर जवाब देना चाहिए। गांधी ने अंग्रेजी के प्रतिष्ठित अखबार ‘द हिंदू’ की एक खबर की पृष्ठभूमि में संवाददाताओं से कहा कि ओलांद ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बोला था कि अनिल अंबानी को 30 हजार करोड़ रुपए का अनुबंध दिया जाए। अब रक्षा मंत्रालय कह रहा है कि प्रधानमंत्री ने समानांतर बात की और हमारी स्थिति कमजोर की। इस पर प्रधानमंत्री जवाब दें। उन्होंने कहा कि वायुसेना के मेरे पायलट मित्रों, आप लोग समझ लो कि ये 30 हजार करोड़ रुपए आपके लिए इस्तेमाल हो सकते थे। उन्होंने ये पैसे अनिल अंबानी को दे दिए। अब स्पष्ट है कि प्रधानमंत्री ने इस देश से चोरी की है। मैं कड़े शब्द इस्तेमाल नहीं करता, लेकिन करने को विवश हो रहा हूं कि भारत के प्रधानमंत्री चोर हैं।

डील पर प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने झूठ बोला था।
ये रक्षा मंत्रालय और कॉरपोरेट के बीच की लड़ाई है।
मनी लॉन्ड्रिंग पर राबर्ट वाड्रा से प्रवर्तन निदेशालय के अफसरों द्वारा जितनी मर्जी जांच कराइए और चिंदबरम पर जो चाहे कार्रवाई करें हमें कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन प्रधानमंत्री को राफेल मामले पर जवाब तो देना ही होगा।
गोवा सीएम मनोहर पार्रिकर से मिला था लेकिन राफेल पर कोई बात नहीं हुई।
हम सच्चाई को सामने लेकर आए और अब हम इसे और आगे ले जाएंगे। हमने अपना कर्तव्य निभाया, अब पत्रकारों का कर्तव्य है कि वो देश के लोगों को बताएं कि पीएम मोदी चोर हैं, मुझे कड़े शब्द बोलने पड़ रहे हैं, लेकिन ये सच है।
मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से झूठ बोला, पूरे फैसले पर ही सवाल खड़ा हो गया है क्योंकि जिस कैग रिपोर्ट को पेश किया जाना था, वो कभी पेश ही नहीं हुई।

गौरतलब है कि जिस अखबार का राहुल ने हवाला दिया है, उसकी रिपोर्ट में कहा गया है कि रक्षा मंत्रालय ने इसको लेकर आपत्ति जताई कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने राफेल विमान सौदे को लेकर फ्रांस के साथ समानांतर बातचीत की जिससे इस बातचीत में रक्षा मंत्रालय का पक्ष कमजोर हुआ। राफेल विमान सौदे को लेकर कांग्रेस और राहुल गांधी प्रधानमंत्री और अनिल अंबानी पर लगातार हमले कर रहे हैं। सरकार और अनिल अंबानी के समूह ने उनके आरोपों को पहले ही खारिज किया है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Bitnami